primary teacher vacancy in government school

बिहार में 94000 प्राथमिक शिक्षकों की बहाली का रास्ता साफ|Bihar Teacher Niyojan Merit List 2020| Class 1 to 8 |

Bihar

Bihar Teacher Niyojan Merit List 2020: बिहार में 94,000 प्राथमिक शिक्षकों की बहाली प्रक्रिया दिसंबर में पास हुए सीटेट के विद्यार्थियों के कारण अटकी हुई थी। जिसको लेकर अब पटना हाईकोर्ट ने रास्ता साफ कर दिया है हाईकोर्ट ने साफ साफ बता दिया है की 23 नवंबर 2019 से पहले सीटेट पास उम्मीदवार को ही बहाली प्रक्रिया में भाग लेने दिया जाएगा। साथ ही हाईकोर्ट ने कहा है की शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया में तेजी लाएं और जल्द से जल्द इस बहाली प्रक्रिया को पूरी करवाई जाए।

न्यायमूर्ति डॉ. अनिल कुमार उपाध्याय की एकलपीठ ने नीरज कुमार एवं अन्य लोगों की ओर से दायर की गई अर्जी पर अपना निर्णय सुना दिया है। उच्च न्यायालय ने दिसंबर 2019 में सीटेट पास करने वाले परीक्षार्थियों की याचिका रद्द कर दी है। जिसके कारण एकलपीठ के इस आदेश के साथ बहाली प्रक्रिया पर लगी रोक भी अब खुद ब खुद खत्म हो गई है। हाईकोर्ट ने मंगलवार को 78 पेजों में अपना निर्णय सुनाया।

सभी जिलों के मेरिट लिस्ट देखने के लिए यहाँ क्लिक करें।

राज्य सरकार के द्वारा 15 जून, 2020 को एक आदेश पारित कर बताया गया था की दिसम्बर, 2019 में सीटेट पास उम्मीदवार इस परीक्षा में भाग नहीं ले सकते हैं अर्थात प्रकाशित विज्ञापन में बदलाव नहीं किया जा सकता। आवेदक के वकील दीनु कुमार के द्वारा बताया गया कि सरकार के इसी आदेश के खिलाफ याचिका दायर करते हुए कोर्ट में उसे चुनौती दी गई थी।

जिसपर सुनवाई करते हुए एकलपीठ ने बीते एक जुलाई के आदेश के द्वारा राज्य सरकार से सवाल जवाब करते हुए भर्ती प्रक्रिया को जारी रखने की छूट देते हुए भी अंतिम नियुक्ति पर रोक लगा दी गई थी। लेकिन अब राज्य के लगभग 94,000 शिक्षकों की बहाली के लिए प्रक्रिया को अंतिम मुकाम तक पहुंचाने का रास्ता एकलपीठ के द्वारा दिए गए निर्णय से साफ हो गया है। अब इस शिक्षक भर्ती प्रक्रिया को जल्द से जल्द पूरी करने का आदेश दे दी गई है।

सभी जिलों के मेरिट लिस्ट देखने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Bihar Teacher Niyojan Merit List 2020| Class 1 to 8 |primary teacher vacancy in government school|Pre Primary Teacher Jobs|Primary Teacher Recruitment|Primary School Teaching

Leave a Reply

Your email address will not be published.